व्‍यक्‍तित्‍व का विकास

Orison Swett Marden

Regular price ₹ 175.00

ईश्‍वर की रचना में मनुष्‍य सर्वश्रेष्‍ठ है और उसमें अपार शक्‍तियां भरी हुई हैं। परन्‍तु कितने हैं जिन्‍हें उन शक्‍तियों का ज्ञान है — वास्‍तव में वे अपनी आधी शक्‍तियों से भी परिचित नहीं है। इन शक्‍तियों को जान और विकिसत कर वे संसार की सारी सम्‍पदा प्राप्‍त कर सकते हैं, जो चाहें कार्य कर सकते हैं, जो चाहें बन सकते हैं।

स्‍वेट मार्डन की यह प्रसिद्ध पुस्‍तक आपको इन्‍हीं शक्‍तियों का न केवल ज्ञान कराएगी बल्‍कि उन्‍हें विकसित करने तथा उनकी सहायता से मनचाही वस्‍तुएं प्राप्‍त करने के उपाय भी बताएगी। इस देश में आधे से अधिक ऐसे लोग हैं जो गरीबी में रहते हुए उसी में सन्‍तुष्‍ट हैं। वे इसी को अपना भाग्‍य समझते हैं। परन्‍तु इच्‍छा करने पर वे जो चाहें प्राप्‍त कर सकते हैं और इस प्रकार न केवल अपना बल्‍कि देश का भी कल्‍याण कर सकते हैं।

Book Details
Transliteration: Vyaktitav Ka Vikas | व्‍यक्‍तित्‍व का विकास
Language: Hindi
Format: Paperback
Size: 5.5 x 8.5 in
Author: Swett Marden | स्‍वेट मार्डन