अपनी हिम्मत अपनी राह

अपनी हिम्मत अपनी राह

Vendor
Orison Swett Marden
Regular price
Sold out
Sale price
₹ 0.00

'मैं अपनी राह खुद ढूंढ निकालूंगा। और कुछ नहीं । तो नई राह बना लूंगा। मैं अपने उद्यम और अपने द्वारा पैदा की गई संभावनाओं के कारण जो चाहूँ बन सकता हूँ।' — यह सिकन्दर ने कहा था, और एक । दिन वह विश्व सम्राट बन गया। यह शक्ति आप में। भी है। यह आत्मबल आपके पास भी है। विपरीत परिस्थितियां भी दृढ़ संकल्प शक्ति को नहीं जकड़ सकतीं । आप भी अपने जीवन-उद्देश्य का निश्चय करें और दृढ़ धारणा से अपनी राह पर चल पड़े ... जीवन सम्राट आप भी अवश्य बन जायेंगे।

Book Details:
Transliteration: Apni Himmat Apni Raah
Author: स्वेट मार्डन
Format: Paperbacks and eBook
Language: Hindi