SUGGESTED READING

कुण्डली दर्पण

कुण्डली में कुल बारह भाव होते हैं। यह बारह भाव जीवन के विशिष्ट पहलुओं को अपने आप में समेटे हुए हैं और इन भावों के अध्ययन से मनुष्य का पूरा जीवन विवेचित किया जा सकता है। प्रत्येक भाव अपने आप में स्वतन्त्र होते हुए भी एक-दूसरे से पूर्णतः सम्बन्धित है। ज्योतिष विज्ञान के सिद्धान्तों के आधार पर इन भावों का फलकथन किस प्रकार किया जाये, यही इस पुस्तक का विषय है।

Read

Across the Black Waters

Translated into over fifteen languages.
Mulk Raj Anand was one of the most prominent novelists and short story writers, and with Raja Rao and R K Narayan, is regarded as a founding father of English fiction in India.

Read

Maths and Your Child

A fascinating journey into the magical and exciting world of maths.
The specialties of each individual number, from zero to nice, and the little mathematical tricks as shown by Shakuntala Devi, all combine to make the reader learn to befriend numbers and excel at maths.

Read